हिंदी जगत

हिन्दी की विभूतियों पर केंद्रित कैलेण्डर का लोकार्पण

"ये अनूठा कैलेंडर नई पीढ़ी को हिन्दी के इन रचनाकारों से जोडने का माध्यम बनेगा और हिन्दी का सन्देश देश के कोने-कोने तक पहुंचाएगा.ये बात इंदौर की पुलिस महानिरीक्षक श्रीमती अनुराधा शंकर ने कही. इंदौर स्थित हिन्दी साहित्य द्वारा प्रकाशित कैलेंडर का लोकार्पण करते साहित्य अनुरागी अनुराधा जी ने कहा कि हिन्दी का यश लगातार बढ़ रहा है."

hindi sahityakar ips anuradha shankar hindi sahitya samiti indore calender based on hindi writers

अप्रैल माह से आरम्भित इस कैलेण्डर के बारह पृष्ठों पर सर्वश्री रामेश्वर शुक्ल अंचल, रामनारायण उपाध्याय, श्रीकृष्ण सरल, प्रभाष जोशी, हरिशंकर परसाई, रामकुमार वर्मा, रामकुमार चतुर्वेदी चंचल, कामताप्रसाद गुरु, वीरेंद्र मिश्र, डा.राममूर्ति त्रिपाठी, वीरेंद्र कुमार जैन और जगन्नाथ प्रसाद मिलिंद आदि के संग्रहणीय चित्रों,कुछ पंक्तियाँ और कुछ प्रसिद्ध कृतियों के नाम प्रकाशित किए गए है.

लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए श्रीमती अनुराधा जी ने कहा कि हिन्दी किसी स्थान विशेष की नहीं बल्कि भारत की माटी से  जुडी भाषा है जों निरंतर बढती ही जा रही है.ऐसे में समिति के ये प्रयास निश्चित रूप से हिन्दी के विकास को एक नई दिशा देंगे.

 अतिथि स्वागत समिति के श्री बसंत सिंह जौहरी, श्री हरेराम वाजपेयी तथा अरविन्द ओझा ने किया.कैलेण्डर की

 बारे में बताते हुए कार्यक्रम का संचालन युवा पत्रकार श्री सुबोध खंडेलवाल ने किया.आभार प्रदर्शन प्रो सूर्यप्रकाश चतुर्वेदी ने किया तथा स्मृति चिन्ह के रूप में श्री अरविन्द जवलेकर ने  समिति द्वारा चयनित पुस्तकें भेंट की.इस अवसर पर न्यायमूर्ति श्री वी. डी ज्ञानी, पार्षद श्रीमती पद्मा भोजे,श्री सदाशिव कौतुक, प्रदीप नवीन, राजेन्द्रप्रसाद दिक्षीत, चंद्रसेन विराट, सूर्यकांत नागर, सुभाष जोशी, नारायन भूतडा, राघवेन्द्र जोशी, एच.के पांचाल, शुभा वैध्य,नियती सप्रे सहित कई साहित्यकार एवं साहित्य प्रेमी उपस्थित थे. 

समिति द्वारा प्रकाशित इस सुन्दर कैलेण्डर के सभी बारह पृष्ठ यहाँ देखे जा सकते है.
 


प्रकाशन दिनांक : 30-04-2012
print

नवीनतम लेख

a summer camp was organised for teaching hindi in minsk city of belarus by alesia.
BOOK WRITER, POEM, POET, SUBODH