हिंदी जगत

अब एचटीसी के स्मार्ट फोन पर नज़र आएगी हिन्दी

"स्मार्ट फोन बनाने वाली विश्व की प्रमुख कंपनी एचटीसी के स्मार्ट फोन जल्दी ही हिन्दी के रंग में रंगे हुए नज़र आएँगे. दिसंबर तक एचटीसी अपने एंड्रायड फोन के लिए हिन्दी इंटरफेस प्रस्तुत करने जा रही है. हिन्दी के बाद एचटीसी बांग्ला,उडिया और अन्य भारतीय भाषाओं पर भी ध्यान केंद्रित करेगी. "

HTC, ANDROID, ANDROID 2.2, ANDROID 2.3, HINDI, HINDI os,Darren Sng, senior director of product marketing in Asia at HTC,Hindi user interface

अभी नोकिया के कुछ माडल्स हिन्दी का साथ ज़रूर देते है मगर पूरे विश्व में तेजी से लोकप्रिय होते जा रहे एंड्रायड आधारित मोबाइल हिन्दी से दूर ही है. इन पर न तो हिन्दी देखी जा सकती है और ना लिखी जा सकती है, मगर अब ये दूरी खत्म होने वाली है. संभवतः अगले साल से एंड्रायड पर हिन्दी लिखी और देखी जा सकेगी. इसकी शुरुआत ताईवान के एचटीसी ब्रांड से होगी.एचटीसी के एशिया क्षेत्र के मार्केटिंग प्रमुख दरन सेंग पिछले दिनों दिल्ली में  द मोबाइल इन्डियन डॉट कॉम नामक  वेबसाईट से चर्चा करते हुए ये बात बताई.

दरन ने कहा कि एचटीसी दिसंबर में अपने एंड्रायड फोन के लिए हिन्दी इंटरफेस प्रस्तुत करेगी.  हिन्दी के बाद एचटीसी बांग्ला,उडिया और अन्य भारतीय भाषाओं पर भी ध्यान केंद्रित करेगी. दरन ने बताया कि एचटीसी  उपभोक्ता इस हिन्दी इंटरफेस को नेट से अपने फोन पर डाल सकेंगे उन्होंने कहा कि हम भारत के मोबाइल सेवा दाताओं से भी इस बारे में चर्चा कर रहे है कि वे अपने अपने उपभोक्ताओं को हिन्दी का ये औजार उपलब्ध करा सके.अपने  एचटीसी फोन में इसे डालने के बाद  लोग फोन का मेनू भी हिन्दी में देखा जा सकेगा और हिन्दी में  एसएमएस भी किए जा सकेंगे.उल्लेखनीय है कि एंड्रायड आधारित फोन भारत में भी काफी लोकप्रिय है मगर अभी तक एंड्रायड प्लेटफार्म पर हिन्दी को नज़रअंदाज किया जा रहा था. एचटीसी इस कमी को पूरा करने जा रहा है. कंपनी को ये यकीन है कि हिन्दी का प्रयोग उसके फोन की बिक्री को बढ़ावा देने में मददगार साबित होगा.

ये खबर थोड़ी पुरानी ज़रूर है मगर हिन्दी के ज़्यादातर पाठकों के लिए नई जैसी ही है क्योंकि हिन्दी के किसी अखबार या चैनल ने इसे छापने या दिखाने लायक नहीं समझा था. अजीब बात है हिन्दी से जुडी खबरें बड़े-बड़े हिन्दी अखबारों, पोर्टल्स और चैनल्स में कम और अंग्रेजी माध्यमों में ज़्यादा नज़र आती है.यकीन किजीये थोड़े दिनों में ये मौसम ज़रूर बदलेगा 

खबर स्रोत - http://www.themobileindian.com


प्रकाशन दिनांक : 09-10-2011
print

नवीनतम लेख

a summer camp was organised for teaching hindi in minsk city of belarus by alesia.
BOOK WRITER, POEM, POET, SUBODH