विश्व में हिंदी वैश्विक समाचार

हिन्दी के समर्थन में आए कई नेपाली फिल्मकार

"हिन्दी फिल्मों और गानों पर रोक लगाने के सीपीएन माओवादी पार्टी के ऐलान का अभी तक भारत के हिन्दी भाषी समाज ने ने कोई विरोध नहीं किया है मगर नेपाल के फिल्मकार इसके विरोध में उठ खड़े हुए है. नेपाल के कई प्रसिद्ध फिल्मकारों ने मंगलवार को काठमांडू में कहा कि हिन्दी पर रोक लगाने से नेपाली सिनेमा भी आगे नहीं बढ़ सकेगा. "

imposed ban hindi films & songs in nepal cpn communist party mohan vaidhya nepali film industry

सीपीएन माओवादी ने ये कहते हुए हिन्दी फिल्मों और गानों पर रोक लगाई है कि हिन्दी फिल्मों के कारण नेपाली सिनेमा आगे नहीं बढ़ पा रहा मगर नेपाल के फिल्मकार इस झूठे तर्क से बिलकुल भी सहमत नहीं है. काठमांडू के रिपोर्टर्स क्लब में हुए एक वैचारिक कार्यक्रम में नेपाल के कई प्रसिद्ध कलाकार,लेखक,निर्माता और निर्देशक उपस्थित थे.इन सबने एक मत से हिन्दी फिल्मों और गानों पर रोक लगाने के सीपीएन माओवादी पार्टी के ऐलान का विरोध किया.
नेपाली फिल्म कलाकार संगठन के सचिव श्री घनश्याम खातीवादा ने कहा कि हिन्दी फिल्मों पर पाबंदी लगाने की

जगह नेपाली भाषा की फिल्मों का स्तर सुधारा जाना चाहिए. नेपाल फिल्म एसोसियेशन के महासचिव श्री प्रदीप उडाया और निर्देशक और अभिनेता श्री अशोक शर्मा ने भी इस बात से सहमति जताई. उन्होंने कहा कि हिन्दी फिल्मों पर पाबंदी लगाने से नेपाली फिल्मों का भला नहीं होगा.नेपाली फिल्मों को बढ़ावा देने के लिए कर में छूट दी जाना चाहिए.
हालांकि इस बारे में नेपाल का फिल्म उद्योग एकमत नहीं है. निर्देशकों और अभिनेताओं ने हिंसक पार्टी के इस ऐलान का विरोध किया है तो दूसरी तरफ नेपाली फिल्मों के निर्माताओं ने उनका समर्थन भी किया है.

समाचार स्रोत - माय रिपब्लिका
ये भी देखे -
नेपाल -नए दल ने हिन्दी पर हमला बोला,सरकार ने हिन्दी का समर्थन किया

 


प्रकाशन दिनांक : 04-10-2012
print

नवीनतम लेख

a summer camp was organised for teaching hindi in minsk city of belarus by alesia.
BOOK WRITER, POEM, POET, SUBODH