संसाधन पर्यावरण

प्रकृति की बात - दुधवा लाइव

"ये पोर्टल जल,जंगल,ज़मीन और जानवर के साथ प्रकृति के जुडाव की बात करता है.उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी के श्री कृष्ण कुमार का ये पोर्टल हिन्दी भाषी प्रकृति प्रेमियों के लिए एक सौगात की तरह है यहाँ इन विषयों पर केंद्रित ऐसी कई विशिष्ट जानकारियाँ है जो आमतौर पर हिन्दी मे देखने को नही मिलती."

environmental magajine in Hindi ecology environment biodiversity traditional knowledge wild life.

ये एक ऐसा मंच है जहां हमारे पारंपरिक ज्ञान के साथ पर्यावरण और वन्य जीवन की बात की जाती है. ये पोर्टल औषधीय वनस्पतियों और पारम्परिक ज्ञान की सम्पदा को बचाने के लिए विशेषज्ञों द्वारा किया गया एक सार्थक प्रयास है. यदि आप जल,जंगल, ज़मीन या पशुओं की दुनिया की रूचि रखते है तो श्री कृष्ण कुमार एवं उनके साथियों का ये प्रयास आपको खूब पसंद आएगा.

यहाँ प्रकृति और पर्यावरण पर केंद्रित समाचार भी दिए जाते है. यदि इन विषयो पर आपके पास भी कोई जानकारी है तो आप इस पोर्टल के माध्यम से अपनी भाषा मे प्रस्तुत कर सकते है और हाँ इस पोर्टल पर जाने के बाद इस विषय पर हिन्दी में रोचक प्रस्तुतियों के लिए उन्हें बधाई ज़रूर दीजियेगा.

इस पोर्टल पर जाने के लिए यहाँ चटका लगाए.

 


प्रकाशन दिनांक : 30-05-2011
print

नवीनतम लेख

a summer camp was organised for teaching hindi in minsk city of belarus by alesia.
BOOK WRITER, POEM, POET, SUBODH